Skip to main content

जियो यूजर के लिए बड़ी खबर : 31 मार्च के बाद आएगा जियो का बिल, बैंक अकांउट से खुद कट जाएंगे पैसे-












अगर आप रिलायंस की जियो सिम का इस्तेमाल करते है तो आपके लिए यह खबर सदमे भरी हो सकती है।
अब Jio देगा बंपर प्लान, सबको मिलेगा फ्री इंटरनेट….


जहां आप जियो की फ्री सेवा समझकर इसका भरपूर इस्तेमाल कर रहे हो, वहीं इसके लिए आपको भारी कीमत भी चुकाना पड़ सकती है। हाल में एक अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट में पता चला है कि अगर आप जल्दबाजी में जियो की सिम खरीद कर ले आए हो तो आपको इसका बिल भी भरना पड़ सकता है।


जैसे ही जियो का फ्री ऑफर खत्म होगा वैसे ही आपके घर पर इसका बिल आ जाएगा और नियम और शर्तों के मुताबिक आपको बिल चुकाना होगा।

आपका जियो आधार से जुड़ा है और आपका आधार बैंक से तो अगर आप ये सोच रहे हों कि बिल नहीं भरेंगे तो बता दें कि आपके अकांउट से ये बिल अमाउंट कट जाएगा। अगर आप जियो के फ्री कॉलिंग और इंटरनेट का इस्तेमाल कर रहे हैं तो जरा सतर्क हो जाएं।

जियो द्वारा दी जाने वाली अनलिमिटेड एचडी वॉइस, जियो नेट वाइफाइ, डाटा, एचडी वीडियो, एसएमएस, जियो ऐप्स जैसी सुविधाएं पोस्टपेड और प्रीपेड दोनों यूज़र्स के लिए है। किन्तु आगर आपकी सिम पोस्टपेड है तो आपको यह ऑफर खत्म होने के बाद इसका बिल आना शुरू हो जाएगा। इसके लिए आप सबसे पहले यह जानकरी निकाले की आपकी सिम प्रीपेड है या पोस्टपेड।

इन ग्राहकों को मिलेंगे बिल

आपको बता दें कि जैसे ही रिलायंस जियो की फ्री सर्विस खत्म होंगी वैसे ही पोस्टपेड सिम वाले ग्राहकों को बिल आने शुरू हो जाएंगे। इसलिए यह जरूरी है कि आप समय से पहले ही जान लें कि आपकी सिम पोस्टपेड है या फिर प्रीपेड। आज हम आपको ऐसी टिप्स बताने जा रहें है जिसके जरिए आप यह जान सकते है कि आपकी सिम पोस्टपेड है या फिर प्रीपेड।

1. jio सिम के बारे में यह पता करना बहुत ही आसान है कि वो प्रीपेड है या पोस्टपेड। इसके लिए सबसे पहले आप अपने फोन में जियो के एप्प को ओपन करें। इसके बाद My jio का ऑप्शन आएगा उस पर क्लिक करें।

2. इसके बाद जो पेज ओपन होगा उस पर Welcome to your digital life लिखा होगा। इस पेज पर सबसे नीचे Skip Sign In लिखा होगा जिस पर क्लिक करने पर एक और नया पेज ओपन होगा।


3. इसके बाद नए पेज पर सबसे ऊपर की ओर My Jio लिखा होगा। इस पेज पर बायीं तरफ अगर आपको Balance लिखा हुआ नजर आता है, तो इसका मतलब है कि आपकी जिओ सिम प्रीपेड है।

4. इसके अलावा यदि बैलेंस की जगह अगर Unpaid bill लिखा है तो इसका मतलब आपकी जिओ सिम पोस्टपेड है। इसका मतलब ये है कि रिलायंस जिओ की फ्री सर्विस खत्म होने के बाद आपके पास बिल आएगा जिसे आपको चुकाना होगा।

Comments

Popular posts from this blog

कहीं आप भी तो नही करते घर मे बने मंदिर मे यह गलतियाँ

सनातन धर्म में कहा गया है कि घर में मंदिर के होने से सकारात्मक ऊर्जा उस घर में बनी रहती है. आज बेशक हम विकसित होने की राह पर हैं किन्तु आज भी हिन्दू लोगों ने अपने संस्कार और संस्कृति का त्याग नहीं किया है. घर चाहे छोटा हो, या बड़ा, अपना हो या किराये का, लेकिन हर घर में मंदिर जरूर होता है सभी घरों में देवी-देवताओं के लिए एक अलग स्थान होता है। कुछ घरों में छोटे-छोटे मंदिर बनवाए जाते हैं। लेकिन हम जानकारी के अभाव में मंदिर में कुछ ऐसी गलतियां कर देते हैं, जो कि अशुभ होती है। आज मै राघव आपको कुछ ऐसी बातें बताने जा रहा हूं, जो कि घर के मंदिरों में नहीं की जानी चाहिए।------------------------------------- घरकेमंदिरमेंसभीश्रीगणेशकीमूर्तियांतोरखतेहैं, लेकिनपूजाघरमेंकभीभीगणेशजीकी 3प्रतिमाएंनहींहोनाचाहिए।कहाजाताहैकिऐसाहोनेसहीनहींहोताहै।
-------------------------------------आपअपनेघरकेमंदिरमेंपूजाकरनेकेलिएशंखतोरखतेहीहोंगे, लेकिनकभीआपकेघरमेंदोशंखतोनहींहै।अगरमंदिरमेंदोशंखहैतोआपउनमेसेएकशंखहटादें। -------------------------------------घरकेमंदिरमेंज्यादाबड़ीमूर्तियांनहींरखनीचाहिए।बतायाजाताहैकियदिहम

चाणक्य की 10 नीतियां- आपके सुखी जीवन के लिए है जरुरी

जन्म
Ø ईसापूर्व 375पंजाब (आज से 2392 साल पहले)
मृत्यु
Ø ईसापूर्व 283पाटलिपुत्र (आज से 2300 साल पहले)
निवास
Ø  पाटलिपुत्र
अन्य नाम
Ø  कौटिल्य, विष्णुगुप्त
विद्यालय
Ø  तक्षशिला
व्यवसाय
Ø  चन्द्रगुप्त मौर्य के महामंत्री
उल्लेखनीयकाम
Ø  अर्थशास्त्र, चाणक्यनीति


आचार्य  चाणक्य  तक्षशिला  के  गुरुकुल  में  अर्थशास्त्र  के  आचार्य  थे।चाणक्य राजनीति  में  भी   काफी  पारंगत  थे।  इनके  पिता  का  नाम  आचार्य  चणीक  था , इसी  वजह  से  इन्हें  चणी  पुत्र  चाणक्य  भी  कहा जाता  है।  चाणक्य  ने  कूटनीतिज्ञ  तरीके से  सम्राट  सिकंदर  को भारत  छोड़ने  पर  मजबूर  कर  दिया  था  और  चंद्रगुप्त  को  अखंड  भारत  का  सम्राट  भी  बनाया।  आचार्य  चाणक्य  ने  श्रेष्ठ  जीवन  के  लिए  चाणक्य  नीति  ग्रंथ  रचा  था। इसमें  दी  गई  नीतियों  का  पालन  करने  पर  जीवन में  सफलताएं  प्राप्त  होती  हैं।  यहां  जानिए  चाणक्य  की 10 खास  नीतियां ...-------------------------------------1:- सेवक को तब परखे, जब बह काम नहीं कर रहा हो, रिश्तेदार को किसी कठिनाई में, मित्र को संकट में और पत्नी को घोर बिपति में परखना चाहिए I
------------------…

ये हैं श्मशान व तंत्र साधना से जुड़ी ये 5 बातें, क्या जानते हैं आप?

तंत्रक्रियाओंकानामसुनतेहीजहनमेंअचानकश्मशानकाचित्रउभरआताहै।जलतीचिताकेसामनेबैठातांत्रिक, अंधेरीरातऔरमीलोंतकफैलासन्नाटा।आखिरक्योंअधिकांशतंत्रक्रियाएंश्मशानमेंहीकीजातीहैं।यदिआपकेमनमेंभीये